राजनीति

30,000 नए सदस्यों को जुड़ेगी विद्यार्थी परिषद

समाज एवं छात्र हित में अभाविप लगातार उठा रहा कदम: पुष्कर अग्रवाल

अभाविप छात्र और राष्ट्र हित के लिए हैं समर्पित: आशिका सिंह

औरंगाबाद। विद्यार्थी परिषद के जिला संयोजक शुभम सिंह के नेतृत्व में जिला कार्यालय में एक बैठक आयोजन की गई जिसमें जिले सभी इकाइयों के प्रमुख कार्यकर्ताओं ने भाग लिया। इस बैठक का मुुख्य उद्देश्य सदस्यता अभियान एवं अधिक से अधिक छात्रों को जोड़कर संगठन को मजबूती प्रदान करना है। इस दौरान यह तय किया गया है कि जिले के विभिन्न प्रखंडों से संगठन में 30,000 सदस्यों को जोड़ा जाएगा। इसी सिलसिले में विश्वजीत कुमार को जिला सदस्यता प्रमुख, नीरज कुमार व अभिषेक पाठक को सह प्रमुख बनाया गया है। ओबरा प्रखंड से तीन हजार, दाउदनगर दो हजार, देवकुंड दो हजार, गौह दो हजार, रफीगंज तीन हजार, नबीनगर एक हजार, मदनपुर एक हजार, बारुण तीन हजार, देव दो हजार, अंबा तीन हजार और वही औरंगाबाद से दस हजार सदस्यों को जोड़ने का लक्ष्य रखा गया है। अंबा से सदस्यता प्रभारी दिलीप कुमार सह प्रभारी अमन कुमार एवं अभिषेक कुमार, रफीगंज आरजू कुमार सह प्रभारी राहुल कुमार, पर्शंसु सिंह, ओबरा विकास कुमार सह प्रभारी शिवम कुमार, राकेश कुमार देव सचिन कुमार, विशाल कुमार एवं अमृत कुमार, देवकुंड अमरजीत कुमार, संजय कुमार एवं गौरव कुमार, गोह श्रवण कुमार, राकेश कुमार एवं राहुल कुमार, मदनपुर कृष्णा कुमार, बारुण रंजन कुमार, विकास कुमार एवं अंजलि कुमारी, दाउदनगर गोपाल कुमार, धीरज कुमार एवं मनु कुमार, औरंगाबाद कुणाल कुमार, पवन कुमार, अंकित , अभिषेक कुमार, विशाल कुमार, अजित कुमार, ईशा कुमारी एवं अमीषा कुमारी को सदस्यता प्रमुख बनाया गया है।

प्रांत प्रमुख पुष्कर अग्रवाल एवं जिला सयोजक शुभम सिंह ने बताया कि देश के आजादी के 75 वें वर्ष पर पुरा देश अमृत महोत्सव मना रहा है। उन्होंने कहा कि विद्यार्थी परिषद काफी मजबूत और सशक्त संगठन है। जो पिछले 72 सालों से छात्र हित, सामाजिक मुद्दे एवं देश हित में सदैव तत्पर रही है। चाहे कोई आपदा हो या फिर बहुत बड़ी त्रासदी, हर घटनाओं में विद्यार्थी परिषद में अपने काम का लोहा मनवाया है। विद्यार्थी परिषद हमेशा से छात्र हितों को सर्वोपरि मानती है ओर उनके साथ विद्यार्थी परिषद सदैव खड़ी है और भविष्य में भी रहेगी। प्रदेश कार्यसमिति सदस्य आशिका सिंह ने कहा कि छात्र-छात्राओं को जब भी विद्यालय व महाविद्यालय में कोई परेशानी होती है, उसके निराकरण के लिए परिषद हमेशा आवाज बुलंद करता है। परिषद अपने स्थापना काल से ही सामाजिक राष्ट्रीय मुद्दा शैक्षणिक परिसर में व्याप्त भ्रष्टाचार के खिलाफ अपनी आवाज बुलंद करती रही है और छात्रों के लिए उचित न्याय के साथ खड़ी रहती है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button

Adblock Detected

Please remove ad blocer