विविध

जयपुर से औरंगाबाद पहुंची राजा नारायण सिंह की प्रतिमा, ज़िले वासियों ने जताया हर्ष

औऱगाबाद। सदर प्रखंड स्थित औरंगाबाद के जनेश्वर विकास केंद्र एवं जन विकास परिषद द्वारा प्रस्तावित भारत माता के अमर सपूत राजा नारायण सिंह के प्रतिमा स्थापित करने हेतु आज औरंगाबाद रमेश चौक पर उनकी भव्य, आकर्षक प्रतिमा पहुंचने पर सैकड़ों जिला वासियों ने हर्षाभिभूत होकर स्वागत किया। प्रतिमा आने पर प्रसन्नता जाहिर करते हुए संस्था के केंद्रीय सचिव सिद्धेश्वर विद्यार्थी ने कहा कि राजा नारायण सिंह ने 1857 की क्रांति के पूर्व अंग्रेजों के प्रबल शत्रु थे। उन्होंने अंग्रेजी हुकुमत का विरोध करते हुए हजारों अंग्रेजों को मौत के घाट उतारने का काम किया था। ऐसे युगपुरुष भारत के महान स्वतंत्र सेनानी के प्रतिमा स्थापित करने हेतु जनेश्वर विकास केंद्र लगातार 31 वर्षों से संघर्ष करते आ रही थी। वर्ष 2017 से ही यह प्रतिमा जयपुर में बनकर तैयार थी। 8 सितंबर विश्व साक्षरता दिवस के अवसर पर प्रतिमा स्थापित करने का कार्यक्रम था। परंतु 8 सितंबर के पूर्व ही कुछ लोगों द्वारा विघ्न पैदा करने के कारण मूर्ति नहीं आ पाई। यथाशीघ्र प्रतिमा का स्थापना किया जाएगा।

आज उस संघर्ष का परिणाम है कि राजा नारायण सिंह का प्रतिमा औरंगाबाद जिले के रमेश चौक पर अवस्थित राजा नारायण सिंह पार्क में पहुंचने पर लोगों ने हर्ष व्यक्त किया। प्रतिमा पहुंचने पर मूर्ति प्रदाता मनोज सिंह, नगर पार्षद चुलबुल सिंह, महाराणा प्रताप सेवा संस्थान के पूर्व सचिव अनिल कुमार सिंह, बिहार प्रदेश सरपंच संघ के प्रदेश महासचिव रवींद्र कुमार सिंह, समाजसेवी रामजी सिंह, अधिवक्ता संघ के जिलाध्यक्ष संजय कुमार सिंह गिरिजेश कुमार सिंह, दया पात्र सिंह, विनोद मालाकार, गोपाल राम, शक्ति कुमार सिंह, जसवंत कुमार सिंह, मीडिया प्रभारी सुरेश विद्यार्थी सहित सैकड़ों लोगों ने विशेष सहभागिता निभाई एवं स्वागत किया।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button

Adblock Detected

Please remove ad blocer