विविध

गजना धाम को पर्यटन स्थल का दर्जा दिलाने का प्रयास तेज 

गजना महोत्सव आयोजन हेतु जिला पदाधिकारी से की गयी मांग

औरंगाबाद। नबीनगर प्रखण्ड के अंतर्गत गजना धाम के श्रद्धालूओं की एक बैठक दिनांक सोमवार को 12 बजे गजना धाम में चन्द्रगढ़ पंचायत के मुखिया आमोद चन्द्रवती की अध्यक्षता में हुई। गजना न्यास एवं समिति के सचिव सिद्धेश्वर विद्यार्थी ने बताया कि गजना धाम को हाइलाइट करने, इसे पर्यटन का दर्जा दिलाने और गजना के सर्वांगीण विकास के लिए 2004 से ही गजना महोत्सव का आयोजन न्यास समिति द्वारा कराया जा रहा है। महोत्सव आयोजन से प्रभावित होकर विहार सरकार और जिला प्रशासन ने 2019 में महोत्सव को अधिग्रहीत कर सरकारी स्तर पर आयोजन कराया जिससे आम जनता में खुशी की लहर फैल गयी थी। परन्तु कोरोना का बहाना बनाकर महोत्सव न तो 2020 में कराया गया और नहीं 2021 में होने की संभावना लग रही है। अतः गजना महोत्सव 2021के आयोजन सरकारी स्तर पर कराने हेतु जिला पदाधिकारी से आग्रह करने का निर्णय लिया गया। जिला प्रशासन द्वारा नहीं कराते जाने पर कोरोना के दिशा निर्देशों का पालन करते हूये जन सहयोग से न्यास समिति द्वारा महोत्सव आयोजित करने का निर्णय लिया गया। 31अक्टूबर को आयोजित बैठक में महोत्सव की रूपरेखा तय करने की बात तय की गयी। इस दौरान शंकर प्रसाद, राजकुमार रजक, कर्मदेव राम, मिथलेश चन्द्रवती, अरुण कुमार सिंह, अरुण मेहता, बिनोद ठाकुर, निर्मल सिंह, अरविंद कुमार सिंह , सत्यनारायण सिंह, बृंदा सिंह, अविनाश मिश्र, विबेक कुमार सिंह , सुरेन्द्र प्रसाद सिंह, मनोहर सिंह थे। बैठक में उपस्थित सभी का धन्यवाद ज्ञापन संयोजक भृगुनाथ सिंह ने किया।

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button

Adblock Detected

Please remove ad blocer