क्राइम

चुनावी रंजिश में गोलीबारी, निवर्तमान वार्ड पार्षद के ससुर को लगी गोली, रेफर

औरंगाबाद। नगर थाना अंतर्गत वार्ड नंबर 33 के पिपरडीह गांव में सोमवार की देर शाम चुनावी रंजिश को लेकर गोलीबारी की घटना घटी है। इस घटना में निवर्तमान वार्ड पार्षद पिंकी यादव के ससुर सुरेश यादव को गोली लगी है जिन्हे आनन-फानन में इलाज के लिए सदर अस्पताल लाया गया। जहां से प्राथमिक उपचार के बाद उन्हें बेहतर इलाज के लिए बाहर रेफर कर दिया गया है।

गोलीबारी का आरोप गांव के ही कामता यादव पर लगा है। इस मामले में सुरेश यादव ने कामत यादव के पुत्र अजित कुमार उर्फ गब्बर, घूरा यादव, सिंटू एवं पिंटू पर भी सहयोग करने का आरोप लगाया है। घटना की सूचना मिलते ही नगर थानाध्यक्ष सतीश बिहारी शरण दल अपने बल के साथ पहुंचे और पूरे मामले की जानकारी ली।

बताया जाता है कि गोलीबारी की घटना में घायल हुए सुरेश यादव की पुत्र वधु एवं वार्ड नंबर 31 के वार्ड पार्षद रह चुके स्व. सुरेंद्र यादव की पत्नी पिंकी यादव और कामता यादव इस वर्ष नगर परिषद चुनाव में उक्त वार्ड से प्रत्याशी थी लेकिन किसी कारण वश कोर्ट के निर्देशानुसार राज्य निर्वाचन आयोग ने चुनाव को स्थगित कर दिया है। इधर चुनाव स्थगित होने के बावजूद दोनों के अंदर प्रतिशोध की भावना पनप रही थी।

इसी प्रतिशोध में कमता यादव ने सोमवार की शाम गाली गलौज करते हुए वार्ड पार्षद रही पिंकी यादव के घर की ओर से गुजर रहा थे। गाली-गलौज सुनकर उनके परिवार के सदस्य बाहर निकले और कामता यादव को समझाने का प्रयास किया। इस दौरान कामता यादव के भी परिवार मौके पर पहुंच गए और मामला सुलझाने की बजाय आपस में भिड़ गए। इसके बाद मामला हिंसक झड़प में तब्दील हो गया। आरोप है कि मौके पर कामता यादव के द्वारा लगातार चार फायरिंग की गई। फायरिंग के दौरान गोली सुरेश यादव के बाएं हाथ के केहुनी के उपर लगी। फिलहाल उन्हें प्राथमिक उपचार के बाद बेहतर इलाज के लिए रेफर कर दिया गया है।

थानाध्यक्ष सतीश बिहारी शरण ने बताया कि दोनों ही आपस में पाटीदार है जिनके बीच पूर्व से जमीनी विवाद का मामला चल रहा हैं। आज दोनों के बीच हिंसक घटना घटी है। फिलहाल घायल सुरेश यादव से पूछताछ के बाद आगे की कार्रवाई की जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button

Adblock Detected

Please remove ad blocer