क्राइम

गोली मारकर एक युवक की हत्या, दो का ईलाज जारी

– डीके यादव

मृतक सूरज यादव की छाती में अपराधी ने मारी थी गोली, जमीनी विवाद में चली गोली, दो घायल गया में हैं इलाजरत

घटनास्थल पर कोंच पुलिस कर रही है कैम्प

गया। कोच प्रखंड में जहाँ धूमधाम से खुशी का त्यौहार प्रकाश पर्व दीपावली के मौके पर लोग घी के दिये जला रहे थे और पटाखे फोड़ रहे थे वहीं , दूसरे तरफ काबर पंचायत के ग्राम पडरावाँ मठ पर दो पक्ष में वर्षों से चले आ रहे जमीनी विवाद को लेकर एक पक्ष ने दूसरे पक्ष के युवक सूरज यादव (29) को गोली मारकर हत्या कर दी गई। वहीं , सूरज के पिता राजबली यादव तथा अन्य जगदीश यादव , सत्येंद्र यादव एवं सुखेन्द्र यादव घायल हो गए। घटना वृहस्पतिवार की संध्या दिए जलाने के वक़्त की बतायी गई है। मृत्त सूरज यादव के पिता राजबली यादव की स्थिति चिंताजनक बनी हुई है। मौके पर दल बल के साथ उपस्थित कोंच थानाध्यक्ष उमेश प्रसाद को दिए गए आवेदन में मृत्तक की पत्नी मनोरमा देवी ने बताया है कि मेरे पति सूरज यादव शाम को दीपावली पर्व को लेकर गाँव के गोरैया स्थान से दिए जलाकर लौट रहे थे तभी विद्यानंद यादव के पुत्र शिव कुमार यादव (30) ने मेरे पति को गोली मार दी। उसके बाद वे चिलाने लगे कि मुझे शिव कुमार यादव ने गोली मार दिया। इसके बाद मेरे ससुर राजबली यादव पहुँचे तो उन्हें स्व. चलित्र यादव के पुत्र विद्यानंद (60) ने सर पर गड़ासा से हमला कर घायल कर दिया तथा साथ में रहे जगदीश यादव ने भाला से हमला कर घायल कर दिया। उसके बाद उस स्थल पर सत्येंद्र यादव (38) पहुँचे तो विद्यानंद के दामाद गोह प्रखंड के ग्राम खेमपुर निवासी जितेंद्र यादव ने सत्येंद्र यादव के छाती पर छुरा मार दिया। जब हल्ला सुनकर मौके पर राजनाथ यादव (65) पहुँचे तो उन्हें लाठी से मारकर बायां हाथ तोड़ दिया। इस प्रकार से घर की महिलाओं ने छत पर से ईंट पत्थर से हमला किया। सभी घायलों को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र कोंच ले जाया गया। जहाँ , चिकित्सक ने सूरज यादव को मृत्त घोषित किया। वहीं , दो को मेडिकल कॉलेज गया रेफर किया गया। इस घटना में मनोरमा देवी ने आधे दर्जन से अधिक लोगों को आरोपित बनाया है। बताया जाता है कि घटना के बाद से गांव में सन्नाटा पसरा हुआ है। शव को पोस्टमार्टम के बाद ठीक दरवाजे पर रखा हुआ था और गाँव की महिलाएं दहाड़ मारकर रो रही थीं। वहीं , महिलाओं ने रोते बिलखते स्वर में दरवाजे खोलवाकर घर में छुपे लोगों की गिरफ्तारी की मांग कर रहे थे। संध्या करीब 5 बजे टिकारी डीएसपी गुलशन कुमार के उपस्थिति में बंद घर को खोलवाया गया। बन्द घर से तीन लोग बाहर निकले , जिसमें संगीता कुमारी, श्रीकांति देवी , मनोज यादव की पुत्री श्वेता कुमारी (12) तथा दो वर्षीय रिशु कुमार (संगीता कुमारी की पुत्री) शामिल रहे। प्रखंड विकास पदाधिकारी कोंच प्रदीप कुमार चौधरी के माध्यम से 20 हज़ार रुपये तथा पंचायत के मुखिया पति अवधेश दास के द्वारा कबीर अंत्येष्टि से 3 हज़ार रुपये मृत्तक की पत्नी मनोरमा देवी को दिया गया। मृतक सूरज के दो छोटे छोटे बच्चे हैं। जिसमें एक खुशी कुमारी (2) तथा रोहित कुमार (7 माह) का है। सूरज का ससुराल गोह प्रखंड के अमारी निरंजन बिगहा में है। सूरज अपने तीन भाइयों में सबसे छोटे थे। उनका एक भाई पानीपत में काम करते हैं तथा दूसरा ट्रक चालक हैं। शव को दाह संस्कार शनिवार को एक भाई जो पानीपत में रहते हैं उन्हें आने के बाद किया जाना है। सूरज के तीन बहन हैं। वहीं , कोंच थानाध्यक्ष ने इस मामले में अबतक तीन आरोपी को गिरफ्तार किया है जिसमें विद्यानंद यादव उर्फ सिपाही जी , जितेंद्र यादव तथा शिव कुमार यादव का नाम शामिल है। वहीं , कोंच थानाध्यक्ष उमेश प्रसाद ने बताया कि घटना पर लगातार नजर बनाकर कैम्प किया जा रहा है। आरोपियों की गिरफ्तारी होगी , कोई भी लोग बक्से नहीं जाएंगे। समाचार लिखे जाने तक पुलिस बल के अलावे सैंकड़ों की तादाद में लोग घटना स्थल पर उपस्थित थे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button

Adblock Detected

Please remove ad blocer