राजनीति

बिहार में बिछेगा उद्योगों का जाल: शाहनवाज

औरंगाबाद। दक्षिण बिहार के दौरे पर निकले उद्योग मंत्री शाहनवाज हुसैन सोमवार की रात 10 बजें औरंगाबाद शहर के बाईपास स्थित मां मुंडेश्वरी टॉवर पहुंचे और आयोजित प्रेस वार्ता में उद्योग के विकास के साथ-साथ राजनितिक मुद्दो पर बतचीत की। मंत्री ने कहा कि इस दौरे के क्रम में अब तक भभुआ, बिक्रमगंज, कैमूर, नोखा, सासाराम एवं अन्य जगहों पर जा चुका हूं लेकीन इसी बीच अब औरंगाबाद से गया जा रहा था तो पार्टी नेताओं व कार्यकताओं के आग्रह पर यहां रूक गया हूं।  मंत्री ने कहा कि बिहार में उद्योग की उपलब्धता को लेकर इस कोरोना काल में 35 हजार करोड़ खर्च करने का प्रस्ताव आया है। भाजपा – जदयू का उद्योग और रोजगार का कार्यकाल है। यहां उद्योग का माहौल बन गया है। देश भर के इन्वेस्टर से मिलकर प्रदेश में उद्योग स्थापीत करने का अपील किया हूँ। साथ में कहा है कि आप एक बार बिहार तो आइए। इन्वेस्टर आने लगे हैं। लेकिन कुछ फिल्मकार और विपक्षी दलों के नेता बिहार के इमेज को बार-बार बदनाम करने की कोशिश करते है। जबकि यह सभ्य लोगों का प्रदेश है। उन्होंने कहा कि बिजली सड़क कृषी एवं सिचाई के मामले में बिहार अन्य राज्यों से काफ़ी आगे है। पिछले 15 सालों में प्रदेश का काफ़ी विकास हुआ है। लेकीन उद्योग के क्षेत्र में जो विकास होना चाहिए था वह नहीं हुआ है। इसलीए देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और भारतीय जनता पार्टी ने हमें आदेश दिया की बिहार जाइए और वहां की यथा स्थिति से अवगत होकर उद्योग लगाएं। यह काम कठिन है लेकिन ना मुमकिन नहीं है। असंभव को संभव करेंगे और नामुमकिन को मुमकिन करेंगे। बिहार में उद्योग लगा कर दिखाएंगे। हालांकि यह मेरे अकेले की बस में नहीं है लेकिन मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के नेतृत्व में यह संभव है। 14 करोड़ बिहारियों को यह मानसिकता बनाएंगे की आपके यहां उद्योग की असीम संभावनाएं हैं। उन्होंने बताया कि इसी के परिणाम स्वरूप औरंगाबाद में श्री सीमेंट जैसे फैक्ट्री चल रहे हैं। यहां से धान सस्ते दामों पर खरीदकर आंदोलन जीवी पंजाब के मंडियों में मोटे दामों पर बिक्री कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि धान शाहाबाद का और चला जाता है पंजाब। चावल जाए तो समझ में आता है लेकिन धान लेकर चले जाते हैं। इसके कारण बहुत सारी राइस मिले बंद पड़ी है। उन्होंने कहा कि धान के भूसे से, सड़े हुए अनाज से मक्का से इथेनॉल बनेगा। हम उद्योग भी लगाएंगे और किसानों को उनकी फसलों का उचित दाम भी देंगे। मिशन मुश्किल है लेकिन जब हम कश्मीर में सरकार बना सकते हैं तो फिर यह नामुमकिन नहीं है। नौजवानों को उद्योग से जो उम्मीद है उसे हम टूटने नहीं देंगे। नई टेक्सटाइल पॉलिसी ला रहे हैं। इस मौके पर भाजपा प्रदेश कार्यसमिति गोपाल शरण सिंह, जिला मंत्री मुकेश कुमार सिंह, महिला मोर्चा जिला अध्यक्ष अनीता सिंह, जिला प्रवक्ता मितेंद्र सिंह सहित कई अन्य नेता मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button