विविध

औरंगाबाद में मेगा क्रेडिट आउटरीच अभियान की हुई शुरुआत, सांसद ने की उद्घाटन

औरंगाबाद। औरंगाबाद ज़िले के अग्रणी बैंक पंजाब नेशनल बैंक के तत्वधान में कोरोना काल के बाद लोगों को वित्तीय सहायता प्रदान कर आर्थिक रूप से स्वावलंबी बनाने के उदेश्य से शहर के नगर भवन में क्रेडिट आउटरीच अभियान के तहत विभिन्न बैंकों का स्टॉल लगाया गया जिसका उद्घाटन सांसद सुशील कुमार सिंह ने किया। वहीं इस मौके पर डीएम सौरभ जोरवाल, एसपी कांतेश कुमार मिश्र, डीडीसी अंशुल कुमार, सदर एसडीओं विजयकांत कुमार, प्रबंधक उपेंद्र चतुर्वेदी सहित कई अन्य बैंकों के प्रबंधक ने संयुक्त रूप से दीप प्रज्जवलित कर कार्यक्रम की शुरुआत की।
इस दौरान कार्यक्रम के आयोजनकर्ता अग्रणी बैंक, स्टेट बैंक ऑफ इंडिया, बैंक ऑफ इंडिया, इंडियन बैंक, बैंक ऑफ बड़ौदा, बैंक ऑफ महाराष्ट्र, आईसीआईसी बैंक, आईडीबीआई बैंक, केनरा बैंक, एचडीएफसी, यूको बैंक, सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया, एक्सिस बैंक एवं नवार्ड ने भाग लिया। सांसद ने कहा कि केंद्र सरकार की विभिन्न योजनाओं की जानकारी आम जनता तक पहुंचाने के उद्देश्य वित्त मंत्रालय के निर्देशानुसार संपूर्ण देश में जागरूकता अभियान क्रेडिट आउटरीच अभियान के तहत चलाया जा रहा है। इस वित्तीय सहायता का लाभ महिला-पुरूष को मिले। ताकि वह आत्मनिर्भर बनें। यह हमारे सरकार की प्राथमिकता है।
आज का यह विषय बेहद महत्पूर्ण है। कहा कि आमतौर पर लोगों को सबसे बड़ी समस्या ऋण लेने की होती हैं जिस प्रकार से मेरे पास लोग विभिन्न समस्याएं लेकर आते हैं। उसकी चर्चा मैं आलोचनात्मक ढंग से चर्चा नहीं करना चाहता हूं। केवल आम जन की समस्या को आप सबो के सामने रखना चाहता हूं। को यहां निर्णय लेने वाले प्राधिकृत लोग मौजूद है। आम आदमी को बैंक से ऋण लेना एक बड़ी समस्या हैं। चाहे वह ऋण सरकार के तरफ से हो या फिर व्यक्तिगत ही क्यों न हो। इन सभी में इन्हें काफी समस्याएं होती हैं। यहां तक की केसीसी या मुद्रा ऋण या फिर किसी भी तहत के ऋण लेना आम आदमी के लिए एक गंभीर समस्या है। हालांकि इस मामले में बैंक प्रबंधक चाहे तो किसी को ऋण दे सकता हैं या फिर न भी दे सकता हैं। लेकिन खैर यह अधिकारियों की जिम्मेदारी बनती हैं की वह सभी योजनाओं को असहाय एवं गरीब लोगों तक पहुंचाएं। उन्हें ऋण देकर आर्थिक रूप से उत्थान करें एवं परमार्थ की भागी बने। कहा कि आज कल साइबर सुरक्षा एक बड़ी चुनौती है। इससे निपटने के लिए मजबूत पहल की जानी चाहिए।
अग्रणी बैंक के प्रबंधक उपेंद्र चतुर्वेदी ने कहा कि केंद्र सरकार के विभिन्न योजनाएं जैसे केसीसी, पीएम किसान योजना, स्टैंड अप इंडिया, पीएम स्व निधि योजना , मुद्रा योजना, पीएमईजीपी के साथ-साथ राज्य सरकार के विभिन्न योजनाओं के अंतर्गत जिले के किसान, व्यवसायी, उद्यमी के बीच ऋण वितरण  करने के उदेश्य से विभिन्न बैंकों के स्टॉल लगाएं गये है। वित्तीय समावेशन से ग्राहकों को जोड़ने के अलावा सामाजिक सुरक्षा, प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना, प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना, अटल पेंशन योजना, प्रधानमंत्री जनधन योजना का लाभ भी लोगों को दिया जाएगा। कहा कि सरकार द्वारा चलाई जा रही जन कल्याणकारी योजनाओं के साथ बैंकों की ओर से चलायी जा रही योजनाओं के बारे में विस्तृत जानकारी दी जाएगी। इस अवसर पर जिला कृषि पदाधिकारी रणवीर सिंह, मंडल प्रमुख दीपक कुमार, डीडीएम नार्बाड सुशील कुमार सिंह, जिला समन्वयक भारती स्टेट बैंक राजेश धवन, जीविका ज़िला सलाहकार प्रमोद कुमार, सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया के मुख्य प्रबंधक सुधीर कुमार, क्षेत्रीय दक्षिण बिहार ग्रामीण बैंक के आरके चटर्जी, आईडी बीआई मुख्य प्रबंधक विवेकानंद मिश्र, बैंक ऑफ इंडिया के वरीय प्रबंधक अमित कुमार, दक्षिण बिहार ग्रामीण बैंंक के प्रबंधक मयंक कुमार सहित कई अन्य मौजूद थे। कार्यक्रम का संचालय चंदन श्रीवास्तव ने किया।

Admin

The purpose of this news portal is not to support any particular class, politics or community. Rather, it is to make the readers aware of reliable and authentic news.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button