राजनीति

खाद की समस्या ने उड़ाई किसानों की नींद, इन परिस्थितियों में भी है नदारद

मदनपुर (औरंगाबाद) बढ़ते खाद की समस्या को लेकर जन अधिकार युवा परिषद के जिलाध्यक्ष विजय कुमार उर्फ गोलू यादव ने कहा है कि खाद की समस्या आज कोई नहीं बात नहीं है क्षेत्र में प्रतिवर्ष खाद की पर्याप्त आपूर्ति नहीं होने से किसानों को काफ़ी समस्या का सामना करना पड़ता है। हर साल खाद की कमी का दंश झेलते हुए इन किसानों को 15 वर्ष से अधिक हो चुके हैं। इस वर्ष भी खाद की समस्या ने किसानों की नींद उड़ा दी है। बावजूद सरकार समस्या हल करने के बजाय अखबारों व टीवी चैनलों के माध्यम से किसानों को जल्द सुधार होने की अमली जामा पहना रही है। श्री गोलू ने कहा कि जबकि हकीकत यह है की सरकार किसानों का हित चाहती ही नहीं है, यदि हित चाहती तो आज किसान दिल्ली के सड़कों पर विवश होकर आंदोलित नहीं होते। खेतों में धान की फसल खड़ी है। समय पर पानी मिल जाने से फसल को खाद की अत्यधिक जरूरत है। किंतु केन्द्रों से खाद नदारद होने से किसानों की चिंता बढ़ा दी है। स्थिति यह है कि किसानों को एक-दो बोरी उपलब्ध भी हो रहे है तो ब्लैक स्वरूप निर्धारित शुल्कों से अधिक दामों पर खरीदने के लिए विवश है। इन परिस्थितियों में किसानों को अपने भविष्य की चिंता सता रही है।

 

 

 

Related Articles

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button

Adblock Detected

Please remove ad blocer