चुनावराजनीतिविविध

पंचायत चुनाव में प्रत्याशी को लेकर लोगों में चर्चा

           डी.के यादव

गया। प्रत्येक ग्रामीण मतदाता पंचायत चुनाव में अपने मत का प्रयोग जरूर करना चाह रहे हैं। उनका एक-एक वोट अनमोल है। मतदान करने से पहले उम्मीदवार के व्यक्तिगत छवि के बारे में जरूर पड़ताल करने की आवश्यकता है। पंचायत चुनाव में मतदाता उम्मीदवार की छवि को ध्यान में रख कर मतदान करते हैं तो विकास का मार्ग प्रसस्त होता है। अगर एक बार कोई चूक हो गई तो पांच साल के लिए समस्या खड़ी हो जाएगी। गलत छवि का उम्मीदवार निर्वाचित होने से गांव का भला नहीं कर पाएगा। मतदाता किसी लालच या बहकावे में आकर मतदान न करें। मतदाता गांव की भलाई व विकास को ध्यान में रख कर मतदान करें। मतदान से पहले उम्मीदवार की पृष्ठभूमि को भी जाने। जो उम्मीदवार गांव की प्रगति, उन्नति व भाईचारा कायम करने की सोच रखते हैं उसके पक्ष में मतदान करना बेहतर रहेगा। शराब बांटने वालों को वोट न दें।

पंचायत चुनाव में कुछ उम्मीदवार जीतने के लिए शराब व पैसा बांटते हैं। मतदाताओं को तरह-तरह के प्रलोभन भी दिए जा रहे हैं। ऐसे उम्मीदवारों को वोट देना किसी भी तरह से ठीक नहीं है। जो आज जीत के लालच में गलत तरीके अपना रहे हैं वह गांव व समाज की भलाई नहीं कर सकते हैं। जात-पात व भाईचारे से ऊपर उठकर करें निष्पक्ष मतदान की आवश्यकता है। गांव की भलाई व विकास के लिए योग्य, सभ्य एवं शिक्षित उम्मीदवार को ही वोट दें। उस उम्मीदवार को अपना वोट देना बेहतर रहेगा जो आपकी सोच पर खरा उतरता हो। ऐसे उम्मीदवार को वोट दें जो आपके सुख-दुख में काम आए और गांव व समाज की बेहतरी के बारे में सोचता है। ये बातें बुद्धिजीवि वर्ग में आजकल सुनने और करने को मिल रहा है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button

Adblock Detected

Please remove ad blocer