राजनीति

सांसद ने दर्जनों किसानों व भूतपूर्व जवानों को अंग वस्त्र एवं फूल माला पहनाकर किया सम्मानित

औरंगाबाद। सेवा और समर्पण अभियान के तहत किसान-जवान सम्मान कार्यक्रम के तहत दर्जानों किसानों एवं भूतपूर्व जवानों को अंग वस्त्र एवं फूल माला पहनाकर सम्मानित किया गया। इस दौरान कार्यक्रम के मुख्य अतिथि सांसद सुशील कुमार सिंह, विशिष्ट अतिथि सुनील कुमार सिंह एवं सांसद प्रतिनिधि अश्विनी कुमार सिंह, किसान मोर्चा जिलाध्यक्ष विनय सिंह, किसान मोर्चा जिला महामंत्री अनुज सिंह, प्रदेश कार्य समिति सदस्य अशोक सिंह, जिला मंत्री सह वार्ड पार्षद धर्मेन्द्र शर्मा, प्रखंड सांसद प्रतिनिधि भरत सिंह, जिला मंत्री आलोक सिंह एवं जिला मीडिया प्रभारी मितेन्द्र सिंह मौजूद रहे। इस मौके पर सांसद सुशील कुमार सिंह ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के 71 वें जन्मदिन पर आयोजित 20 दिवसीय सेवा एवं समर्पण अभियान के तहत कार्यक्रम आयोजित किये जाएगें और छात्र, नौजवान, किसान, भूतपूर्व सैनिक, सब्जी बेचने वाले, ठेला पर सामान बेचने वाले सहित कई अन्य आत्म निर्भर वर्गों को सम्मानित किया जाएगा। इस बीच कोई छूट न जाए इसके लिए भारतीय जनता पार्टी हर स्तर पर कार्य कर रही है। सांसद ने कहा कि आत्मनिर्भर भारत के निर्माण में सैनिकों एवं किसानों का महत्वपूर्ण योगदान रहा है। जब हम सेना में होते हैं तो एक ही तंबू के अंदर सभी धर्मों के दर्शन करते हैं। हम यह भली-भांति जानते हैं कि अगर हम आत्मनिर्भर नहीं हैं तो कोई हमें विकसित नहीं होने देगा। इसी को देखते हुए भाजपा ने भारत को आत्मनिर्भर बनाने का अभियान शुरू किया है। सांसद ने कहा कि किसान व सैनिक देश में एक ऐसी कड़ी है जो देश एवं समाज सेवा का एक उत्कृष्ट उदाहरण है। जहां लाख परेशानियों के बावजूद किसान देश व समाज में अपनी यथास्थिति को बनाएं रखने के लिए महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। राष्ट्र निर्माण में यह वर्ग अहम योगदान देता है। कृषि व किसानों के विकास के बिना देश का विकास संभव नहीं है। इनका जीवन बहुत ही कठिन होता है फिर भी वे पुरा देश को भोजन उपलब्ध कराते है। वहीं, सैनिक जो पूरे देश को अपना परिवार समझता है और सीमा पर डट कर सब की रक्षा करता है। वे दिन-रात मेहनत करके दुश्मनों से हमारी रक्षा करते हैं और सच्चे देशभक्त कहलाते हैं। एक सैनिक नौकरी में देश को सेवाएं देने के बाद रिटायर होकर भी देश के लिए कुछ करने के लिए तैयार रहता है। सांसद ने कहा कि पहले भारत सामरिक उपकरणों का बहुत बड़ा सौदागर हुआ करता था। केवल चीजों का आयात किया करता था। लेकिन आज भाजपा कार्यकाल के मात्र सात सालों में देश गोला, बारूद, सशस्त्र एवं विकास के मामले में आत्मनिर्भर हुआ है। यह सब प्रधानमंत्री के इच्छाशक्ति और और कुशल नेतृत्व का कमाल है। प्रधानमंत्री ने फैसला किया कि हमारे डीआरडीओ के वैज्ञानिकों को जो भी सुविधाएं या प्रेरणा चाहिए वह उन्हें हर स्तर पर उपलब्ध कराया जाए जिसके परिणाम स्वरूप कल तक जो भारत दुनिया के सबसे बड़ा शस्त्रों का आयातक हुआ करता था आज वह निर्यातक बन गया है। सांसद ने कहा कि देश भी वही है लेकिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आने के बाद व्यवस्थाएं, जमीन, राजस्व एवं संबद्धता में काफी कुछ सुधार हुआ है जिसके परिणाम स्वरूप देश की सामरिक आर्थिक एवं जनकल्याणकारी कार्यों में काफी तेजी से विकास हुआ है। देश का महत्व दुनिया के अंदर बढ़ा है जिसका उदाहरण है कि आज भारत अंतरराष्ट्रीय सम्मेलनों में नेतृत्व कर्ता, सलाह कर्ता एवं वक्ता के तौर पर उपस्थित होता है। आने वाले कुछ वर्षों में दुनिया का मानना है कि भारत दुनिया के प्रमुख अर्थव्यवस्थाओं वाले देशों में से एक होगा। इस अवसर पर दिलीप सिंह, उपेन्द्र सिंह, युवा मोर्चा जिला मंत्री दीपक सिंह, युवा भाजपा नेता सुरज कुमार, किसान मोर्चा के जिलाध्यक्ष विनय सिंह, पैक्स अध्यक्ष अनुज सिंह उपस्थित थे।

Admin

The purpose of this news portal is not to support any particular class, politics or community. Rather, it is to make the readers aware of reliable and authentic news.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button